July 7, 2022

बंद किए गए गांव के रास्तों को जल्द खुलवाए प्रशासन : राव आफाक अली


हरिद्वार।  पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष राव आफाक अली के नेतृत्व में ग्राम सलेमपुर रोशनाबाद प्रथम के लोगों ने जिलाधिकारी को ज्ञापन देकर सिडकुल स्थित कंपनी द्वारा जेसीबी से खुदाई कर रास्तों को बंद किए जाने का आरोप लगाते हुए रास्तों को पूर्व की भांति खुलवाने की मांग की है। जिलाधिकारी को सैकड़ों हस्ताक्षरों से युक्त ज्ञापन सौंपने के दौरान पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष राव आफाक अली ने बताया कि वर्ष 1962 में सलेमपुर रोशनाबाद प्रथम के किसानों की भूमि बीएचईएल स्थापना के लिए अधिगृहित की गयी थी। बीएचईएल स्थापना के बाद शेष भूमि को किसानों को वापस किया जाना था। लेकिन वर्ष 1988 में शेष बची भूमि को रोशनाबाद में जिला मुख्यालय बनाए जाने के लिए अलॉट कर दिया गया। उसके बाद सिडकुल की स्थापना हुई तो किसानों की भूमि को सिडकुल को दे दिया गया। जिससे लगातार किसानों का मानसिक व आर्थिक शोषण किया जा रहा है। राव आफाक अली ने बताया कि वर्तमान में सिडकुल ने गांव से लगी कुछ भूमि मिल्टन कंपनी को अलॉट कर दी है। जिसमें कंपनी द्वारा जेसीबी से खुदाई कर गांव के उत्तर की ओर व पूरब की ओर जाने वाले दोनों मुख्य रास्तों को बंद कर दिया है। तालाब के पूर्वी किनारे की पाल से होते स्टेडियम व स्कूल को जाने वाला मुख्य मार्ग भी बाधित कर दिया गया है। इसके अलावा केविन केयर व महेन्द्रा कंपनी के चौराहे से जो मुख्य रास्ता गांव में आता है। वह भी जेसीबी से खुदाई कर खत्म कर दिया गया है। सैकड़ों वर्ष पुराने रास्ते बंद करने के साथ कंपनी ने नाला-खाला व ग्राम समाज की भूमि पर भी अतिक्रमण कर लिया है। जिससे ग्रामीणों में भारी रोष व तनाव बना हुआ है।
राव आफाक अली ने कहा कि गांव में आने जाने के दोनों रास्तों, तालाब व नाला-खाला आदि पर अनावश्यक रूप से अतिक्रमण कर रास्तों को बाधित किए जाने से स्कूल व स्टेडियम आने जाने वाले छात्र-छात्राओं, सिडकुल में काम पर जाने वाले मजदूरों, आम लोगों तथा थाना कचहरी, हरिद्वार रूड़की जाने वाले व्यक्तियों को भारी कठिनाईयों का सामना करना पड़ रहा है। जिससे गांव में भारी रोष व तनाव है और शांति व्यवस्था बिगड़ने का अंदेशा है। इसलिए जनहित को देखते हुए पूर्व की भांति दोनों रास्तों को खुलवाया जाए व नाला खाला व ग्राम समाज की भूमि पर किए गए अतिक्रमण को हटवाया जाए। राव आफाक अली ने चेतावनी देते हुए कहा कि यदि जिला प्रशासन व सिडकुल प्रशासन जल्द से जल्द समस्या का समाधान नहीं करता है तो धरना प्रदर्शन करने को बाध्य होंगे।
ज्ञापन सौंपने वालों में राव आफाक अली के साथ दिलशाद खान, राव सफर्रत, गुलशेर, शहजाद खान, इकराम खान, इशरत खान, मेहताब अली एडवोकेट, राव कासिफ अली, हामिद अली, आबाद अल्वी, नरेश कुमार, रोशन अली, सद्दाम खान, रामकुमार, राव शहबाज अली एडवोकेट, यावर राजपूत, शिवकुमार पाल आदि सहित दर्जनों लोग शामिल रहे।