July 7, 2022

बदरीनाथ धाम में जारी है पानी संकट


चमोली। कपाट खुलते ही देश दुनिया के यात्री भारी संख्या में बदरीनाथ पहुंच रहे हैं। 8 से लेकर 11 मई तक बदरीनाथ में 60 हजार से अधिक दर्शनार्थी भगवान के दर्शनार्थ पहुंच चुके हैं। एक ओर जहां यात्रा को लेकर दर्शनार्थियों और स्थानीय व्यवसाइयों में उत्साह है। वहीं बदरीनाथ में जमीनी हकीकत यह है कि यहां एक बड़े हिस्से में पानी का संकट जारी है। पानी के अभाव का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि होटल कारोबारी यात्रा के भारी सैलाब के बाबजूद भी पानी उपलब्धता न होने के कारण यात्रियों को हाथ जोड़ कर अनुरोध कर रहे हैं कि साहब कमरे तो हैं ‌पर क्या करें! पानी ही नहीं है। बदरीनाथ के होटल कारोबारी सचिन गोनियाल , मनमोहन डाडी, नवीन भिलंगवाल, मनोज, रामदास, सागर डांडी बताते हैं कि इस वर्ष धाम में अधिकांश होटल धर्मशालाओं में पर्याप्त मात्रा में पानी नहीं है । जिसके चलते हम अपने होटलों के कमरे तीर्थ यात्रियों को देने में झिझक भी रहे हैं । हम सरकार और जिला प्रशासन से मांग करते है कि मई और जून माह में धाम में चल रहे मास्टर प्लान के कार्य को रोक दिया जिससे पानी की समस्या का निराकरण हो पाएगा और हमारी 2 वर्षों से टूटी आर्थिकी पटरी पर लौट आए।