June 29, 2022

1 जुलाई से महंगा दिल्ली-देहरादून का सफर


देहरादून। दिल्ली-देहरादून का सफर 1 जुलाई से महंगा हो जाएगा। नेशनल हाईवे 58 स्थित सिवाया टोल प्लाजा पर टोल की दरें 1 जुलाई से बढ़ जाएंगी। 10 से 15 रुपये टोल बढ़ाने का प्रस्ताव है। लोकल वाहनों का टोल भी पांच रुपये बढ़ने की संभावना है। दिल्ली-देहरादून के बीच सिवाया टोल प्लाजा पर टोल दरों में वृद्धि के लिए टोल कंपनी ने एनएचएआई (भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण) को प्रस्ताव भेज दिया है। एनएचएआई द्वारा हरी झंडी मिलने के साथ ही एक जुलाई से टोल कंपनी बढ़ी दरों से टैक्स वसूली शुरू कर देगी। सिवाया टोल प्लाजा पर प्रत्येक वर्ष एक जुलाई से ही टोल टैक्स दरों में वृद्धि की जाती है। वर्ष 2022-23 में टोल टैक्स दरों की वृद्धि के लिए टोल प्लाजा पर कंपनी ने तैयारियां शुरू कर दी है। टोल कंपनी का कहना है कि टोल दरों में वृद्धि का सामना करना पड़ेगा। टोल कंपनी ने टैक्स की वृद्धि के लिए एनएचएआई को प्रस्ताव भेज दिया है। माना जा रहा है कि लोकल के टैक्स में भी मामूली बढ़ोतरी होने के साथ कमर्शियल वाहनों से टैक्स में 10 से 15 रुपये की बढ़ोतरी हो सकती है। टोल कंपनी के प्रस्ताव पर एनएचएआई द्वारा मंजूरी मिलते ही कंपनी जुलाई से बढ़ी हुई दरों से टैक्स वसूली शुरू कर दे देगी। इसके लिए कंपनी ने तैयारियां तेज कर दी है।
वर्तमान टैक्स दरें
वाहन                    दर                       लोकल
कार                  95                       20
हल्के वाणिज्य वाहन   165                       80
बस/ट्रक                   335                      165
मल्टी एक्सेल वाहन     540                      270
फास्ट टैग से टैक्स वसूली, लोकल को छूट
टोल अधिकारियों की मानें तो टोल प्लाजा से प्रतिदिन करीब 25 से 30 हजार वाहन गुजरते हैं। इन वाहनों से फास्टैग द्वारा 94% तक टैक्स वसूली की जाती है, जबकि पांच प्रतिशत टैक्स वसूली नगद में की जा रही है। एनएचएआई के निर्देशनुसार लोकल को निर्धारित छूट दी जाती है, जबकि नगद में टैक्स देने पर पेनल्टी सहित दोगुनी टैक्स वसूली की जाती है।