December 5, 2022

एनयूजेआई की अपील पर प्रभारी मंत्री ने ली हार्ड के मरीज छात्र की सुध, जिलाधिकारी को दिए गरीब बच्चे के इलाज में सहयोग के निर्देश

बागेश्वर ।सुशासन राज्य का दावा करने वाली भाजपा राज में गरीबों की सरकार प्राथमिकता से सुध ले रही है।प्रदेश सरकार में युवा कैबिनेट मंत्री सौरव बहुगुणा आमजनता के हितों के लिए कार्य करने के लिए पहचाने जाने लगे हैं।वहीं युवा मंत्री के द्वारा गरीबों और कमजोर तबकों के कल्याण के लिए हर समय उचित निर्णय लेने की पहल की जितनी प्रशंसा की जाए कम है।वही युवा नेतृत्व में सबसे युवा मंत्री द्वारा लंबे समय से दिल में छेद होने के विमार छात्र की जानकारी मिलने पर मानवीयता दिखाते हुए विमार छात्र के इलाज में हरसंभव मदद का भरोसा दिया है।आज की राजनीति में जहाँ दिखावे की राजनीति आम होती जा रही है।वही प्रभारी मंत्री ने जिला प्रशासन को छात्र के इलाज के लिए मदद कराने के निर्देश दिए हैं।
रीमा तहसील के छातीखेत पलसो के एक छात्र के हार्ड में छेद होने की सूचना पर मदद की अपील की मुहिम चली। व्यापार मंडल अध्यक्ष हरीश सोनी द्वारा इसकी सूचना एनयूजेआई जिलाध्यक्ष को दी।सूचना के बाद तत्काल मदद को मुहिम और सरकारी सेवा में सहयोग की अपील की गई।वही मामले में सूचना वरिष्ठ पत्रकार राजेन्द्र तिवारी को दी।जिसके बाद एनयूजेआई जिलाध्यक्ष और उनके द्वारा जिला प्रभारी मंत्री सौरव बहुगुणा को इलाज में मदद के लिए सहयोग की अपील की गई।जिसके बाद तत्काल जिला प्रभारी मंत्री द्वारा दिल के मरीज छात्र के इलाज के लिए मानवीयता दिखाते हुए गरीब विधवा महिला से बात कर इलाज में आवश्यक मदद का भरोसा दिलाया।वही मामले में एनयूजेआई जिलाध्यक्ष गोविन्द मेहता को जानकारी देते हुए बताया कि बच्चे को जिलाप्रशासन के सहयोग से इलाज के लिए एम्स या हिमालयन हॉस्पिटल जौलीग्रांट में भर्ती कर बच्चे को चिकित्सीय सुविधा प्रदान कराई जाएगी।वही विमार बच्चे की माता से वार्ता कर उन्हें हरसंभव मदद का भरोसा दिया।वही प्रभारी मंत्री बहुगुणा की पहल की पत्रकार संगठन एनयूजेआई और अन्य संगठनों द्वारा सराहना की गई है। वही वीमार छात्र की माता ललिता देवी ने बताया कि वह गरीब महिला है, गरीबी के चलते जैसेतैसे परिवार का भरण पोषण करती है, इलाज में पैसों के अभाव में अपने बच्चे का इलाज नही करवा पा रही हैं।वही जिले के प्रभारी मंत्री द्वारा दिए गए आश्वासन के बाद महिला ने प्रभारी मंत्री सहित सभी समाजिक कार्यकर्ताओ का आभार जताया है।वही प्रभारी मंत्री के आदेश पर जिलाप्रशासन सतर्क हो गया है।मामले में जिलाधिकारी रीना जोशी ने राजस्व विभाग को वीमार छात्र के घर भेजकर यथास्थिति की जानकारी देने और मुख्य चिकित्सा अधिकारी को डॉक्टरों की टीम भेजकर जांच रिपोर्ट देने के निर्देश दिए हैं।