October 7, 2022

शेयर बाजार में हल्की बढ़त के साथ कारोबार की शुरूआत


मुंबई,। शेयर बाजार में सप्ताह के पहले दिन सोमवार को हल्की बढ़त के साथ कारोबार की शुरुआत हुयी। बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का सेंसेक्स जहां 29.78 अंक चढक़र 58,417.71 अंक पर और वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का निफ्टी चार अंक बढक़र 17,401.50 अंक पर खुला। हरे निशान के साथ खुले शेयर बाजार में मिडकैप और स्मॉलकैप में बढ़त दर्ज की गयी। बीएसई का मिडकैप सूचकांक 28.23 अंक के उछाल के साथ 24,507.28 और स्मॉलकैप सूचकांक 59 अंक बढक़र 27,664.08 अंक पर खुला।
उल्लेखनीय है कि गत शुक्रवार को बीएसई का तीस शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 89.13 अंक की मामूली बढ़त लेकर 58387.93 अंक और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 15.50 अंक बढक़र 17397.50 अंक पर रहा।
०)पेट्रोल-डीजल की कीमत में कोई बदलाव नहीं
नयी दिल्ली,। अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कच्चे तेल की कीमत घट जाने के बावजूद देश में सोमवार को तेल विपणन कंपनियों ने पेट्रोल-डीजल की कीमतों में अभी भी कोई बदलाव नहीं किया। देश में करीब दो माह से अधिक समय से ईंधन की कीमतों में स्थिरता होने से आम आदमी के लिए राहत बनी हुयी है। सार्वजनिक क्षेत्र की देश की सबसे बड़ी तेल विपणन कंपनी इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन के अनुसार, दिल्ली में आज पेट्रोल के दाम 96.72 रुपये और डीजल 89.62 रुपये प्रति लीटर पर बिक रहा है। मुंबई में पेट्रोल और डीजल के दाम क्रमश: 106.31 रुपये प्रति लीटर और 94.27 रुपये प्रति लीटर पर हैं।
अंतरराष्ट्रीय बाजार में लंदन ब्रेंट क्रूड 95.16 डॉलर प्रति बैरल और अमेरिकी क्रूड 89.20 डॉलर प्रति बैरल पर कारोबार कर रहा। देश में पेट्रोल और डीजल की कीमतें मूल्य वर्धित कर और माल ढुलाई शुल्क के आधार पर सभी राज्यों में अलग-अलग हैं। पेट्रोल-डीजल के मूल्यों की प्रतिदिन समीक्षा की जाती है।
००

)शुरुआती कारोबार में अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपया 22 पैसे टूटा
मुंबई,। घरेलू शेयर बाजारों में कमजोरी के चलते रुपया सोमवार को शुरुआती कारोबार में अमेरिकी डॉलर के मुकाबले 22 पैसे टूटकर 79.46 पर आ गया।मुद्रा कारोबारियों ने कहा कि विदेशी कोषों की आवक जारी रहने से रुपये की गिरावट को थामने में कुछ मदद मिली।
अंतरबैंक विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार में रुपया अमेरिकी डॉलर के मुकाबले 79.50 पर कमजोर रुख के साथ खुला। हालांकि, शुरुआती सौदों में गिरावट में कुछ भरपाई करते हुए 79.46 पर आ गया। इस तरह रुपया पिछले बंद के मुकाबले 22 पैसे टूटकर कारोबार कर रहा था।
पिछले सत्र में रुपया डॉलर के मुकाबले 16 पैसे बढक़र 79.24 पर बंद हुआ था।
इस बीच, छह प्रमुख मुद्राओं के मुकाबले अमेरिकी डॉलर की स्थिति को दर्शाने वाला डॉलर सूचकांक 0.05 प्रतिशत गिरकर 106.57 पर आ गया।
वैश्विक तेल बेंचमार्क ब्रेंट क्रूड वायदा 0.45 प्रतिशत बढक़र 95.35 डॉलर प्रति बैरल पर कारोबार कर रहा था।शेयर बाजार के अस्थाई आंकड़ों के मुताबिक विदेशी संस्थागत निवेशकों ने शुक्रवार को शुद्ध रूप से 1,605.81 करोड़ रुपये के शेयर खरीदे।
००

)मुकेश अंबानी ने लगातार दूसरे साल कोई वेतन नहीं लिया
नयी दिल्ली,। अरबपति कारोबारी मुकेश अंबानी ने लगातार दूसरे साल अपनी प्रमुख कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज से कोई वेतन नहीं लिया।
अंबानी ने कोरोना वायरस महामारी के चलते व्यापार और अर्थव्यवस्था प्रभावित होने के कारण स्वेच्छा से अपना पारिश्रमिक छोड़ दिया था।आरआईएल ने अपनी ताजा वार्षिक रिपोर्ट में कहा कि वित्त वर्ष 2020-21 के लिए अंबानी का पारिश्रमिक शून्य था।
रिलायंस इंडस्ट्रीज के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक मुकेश अंबानी ने जून 2020 में स्वेच्छा से 2020-21 के लिए अपने वेतन को छोडऩे का फैसला किया। उन्होंने कोरोना वायरस महामारी के चलते यह फैसला किया, जिसने देश के आर्थिक और औद्योगिक स्वास्थ्य पर बुरा असर डाला।अंबानी ने 2021-22 में भी अपना वेतन नहीं लिया।
उन्होंने इन दोनों वर्षों में अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक के रूप में अपनी भूमिका के लिए रिलायंस से किसी भी भत्ते, अनुलाभ, सेवानिवृत्ति लाभ, कमीशन या स्टॉक विकल्प का लाभ नहीं उठाया।इससे पहले उन्होंने एक व्यक्तिगत उदाहरण पेश करते हुए अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक के वेतन को 2008-09 से 15 करोड़ रुपये तक सीमित कर दिया था।
उनके चचेरे भाई निखिल और हीतल मेसवानी का पारिश्रमिक 24 करोड़ रुपये पर अपरिवर्तित रहा, लेकिन इस बार इसमें 17.28 करोड़ रुपये का कमीशन शामिल था।कार्यकारी निदेशक पीएमएस प्रसाद और पवन कुमार कपिल के पारिश्रमिक में मामूली गिरावट हुई।