December 5, 2022

गिरावट के साथ खुला शेयर बाजार, एनडीटीवी के शेयरों में लगा अपर सर्किट, अडानी ग्रुप के स्टॉक्स की हालत पस्त


नई दिल्ली ।  सेंसेक्स एक बार फिर 59000 के नीचे आ गया है। अब 87 अंकों के नुकसान के साथ 58944 के स्तर पर है। वहीं, 19 अंक नीचे 17558 के स्तर पर कारोबार कर रहा है। निफ्टी टॉप गेनर में ओएनजीसी टॉप पर है। जबकि, अन्य स्टॉक्स की बात करें तो अडानी ग्रुप के सभी स्टॉक्स लाल निशान पर हैं। वहीं, एनडीटीवी में 5 पर्सेंट का अपर सर्किट लगा है।
शेयर बाजार आज गिरावट के साथ खुले। बीएसई का 30 स्टॉक्स वाला प्रमुख संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 177 अंकों की गिरावट के साथ 58853 के स्तर पर खुला। वहीं, नेशनल स्टॉक एक्सचेंज निफ्टी की शुरुआत भी लाल निशान के साथ हुई। अडानी ग्रुप द्वारा एनडीटीवी के अधिग्रहण की तैयारी की खबरों के बीच एनडीटीवी के शेयरों पर 5 फीसद का अपर सर्किट लग गया। एनएसई पर इस समय इसका रेट 388.20 रुपये है।
शुरुआती कारोबार में सेंसेक्स 11 अंकों के नुकसान के साथ 59019 के स्तर पर था। जबकि, निफ्टी 3 अंकों के फायदे के साथ 17581 के स्तर पर। निफ्टी टॉप गेनर में अडानी पोर्ट्स, पावर ग्रिड, ओएनजीसी, इंडसइंड बैंक, आईटीसी, अपोलो हास्पिटल और श्रीसीमेंट थे, जबकि टॉप लूजर में भारती एयरटेल, आयशर मोटर्स, एशियन पेंट्स, टाटा कंज्यूमर और दिविस लैब।
00

)राधाकिशन दमानी के इस स्टॉक ने बदली निवेशकों की किस्मत, एक साल में पैसा डबल
नई दिल्ली ।  पिछले एक साल में जिन कुछ स्टॉक ने निवेशकों को तगड़ा रिटर्न दिया है। उसमें राधाकिशन दमानी का स्टॉक भी शामिल है। एस्ट्रा माइक्रोवेव प्रोडक्ट के शेयर का भाव पिछले एक साल के दौरान 157.65 रुपये से बढक़र 322.65 रुपये के लेवल पर पहुंच गया है। यानी जिन निवेशकों ने एक साल पहले इस स्टॉक पर दांव लगाया होगा उनका पैसा अब डबल हो गया। रूस-यूक्रेन युद्ध की वजह से इस साल शेयर बाजार में काफी उतार और चढ़ाव देखने को मिला है। आइए जानते हैं इस साल एस्ट्रा माइक्रोवेव प्रोडक्ट के शेयरों ने कैसा रिटर्न दिया है? बुधवार (24 अगस्त 2022) को कंपनी के शेयर 2.50 प्रतिशत की उछाल के साथ 52 सप्ताह के उच्चतम 322.65 रुपये के स्तर पर पहुंच गए। हांलाकि इसके बाद कंपनी मुनाफावसूली का शिकार हो गई। और देखते ही देखते कंपनी के शेयर का भाव एनएसई में लुढक़ कर 316.50 रुपये के लेवल पर आ गया। सुबह 11:40 बजे कंपनी के शेयर 323.45 रुपये पर ट्रेड कर रहे थे।
पिछले एक महीने के दौरान कंपनी के शेयर का भाव 245 रुपये से बढक़र 322.65 रुपये के लेवल पर पहुंच गया है। यानी सिर्फ एक महीने के दौरान कंपनी के शेयरों 30 प्रतिशत का रिटर्न दिया है। पिछले 6 महीने की बात करें तो एस्ट्रा माइक्रोवेव के शेयरों का भाव 175 रुपये के लेवल से बढक़र 322 रुपये के लेवल पर आ गया है। यानी इस दौरान कंपनी के शेयरों में 80 प्रतिशत की उछाल देखने को मिली। वहीं, इस साल राधाकिशन दमानी के इस स्टॉक की कीमत में 90 प्रतिशत से अधिक की उछाल आई है। साल 2022 की शुरुआत में कंपनी के शेयर का भाव 233 रुपये से बढक़र 322.65 रुपये के लेवल पर पहुंच गया है।
00

)सोना 320 और चांदी 539 रुपये चमकी
मुंबई , ।  वैश्विक बाजार की तेजी से समर्थन पाकर आज घरले सर्राफा बाजार में सोना 320 रुपये प्रति दस ग्राम और चांदी 539 रुपये प्रति किलोग्राम चमक गई।
अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सोना हाजिर एक प्रतिशत चढक़र 1753.09 डॉलर प्रति औंस पर पहुंच गया। इसी तरह अमेरिका सोना वायदा 0.80 प्रतिशत चमककर 1747.90 डॉलर प्रति औंस हो गया। इस दौरान चांदी हाजिर 0.84 प्रतिशत की बढ़त लेकर 19.17 डॉलर प्रति औंस बोली गई।
देश के सबसे बड़े वायदा बाजार एमसीएक्स में सोना 320 रुपये महंगा होकर 51483 रुपये प्रति दस ग्राम और सोना मिनी 308 रुपये तेज होकर 51525 रुपये प्रति दस ग्राम पर रही। इसी तरह चांदी 539 रुपये मजबूत होकर 55531 रुपये प्रति किलोग्राम और चांदी मिनी 372 रुपये की तेजी लेकर 56031 रुपये प्रति किलोग्राम बोली गयी

गौतम अडानी एनडीटीवी के होंगे मेजर स्टेकहोल्डर, 495 करोड़ रुपये का लगाया दांव
नई दिल्ली । एशिया के सबसे अमीर आदमी गौतम अडानी एक बार फिर चर्चा में आ गए हैं। दरअसल, गौतम अडानी समूह की कंपनी एएमजी मीडिया नेटवर्क लिमिटेड ने मीडिया हाउस एनडीटीवी में हिस्सेदारी खरीदने का ऐलान किया है। जानकारी के अनुसार अडानी ग्रुप एनडीटीवी यानी नई दिल्ली टेलीविजन लिमिटेड में 29.18प्रतिशत हिस्सेदारी का अधिग्रहण करेगी। वहीं, खुली पेशकश के जरिए एनडीटीवी में 26प्रतिशत हिस्सेदारी का अधिग्रहण करेगी। जिसके बाद अडानी ग्रुप कुल हिस्सेदारी 55 फीसदी से भी ज्यादा की हो जाएगी। एक हिसाब से वह मीडिया कंपनी में मेजर स्टेकहोल्डर कहलाएगी। मीडिया रिपोर्ट्स की माने तो यह डील करीब 495 करोड़ रुपये में फिक्स होगी।
एएमजी मीडिया नेटवर्क्स लिमिटेड के सीईओ और सीनियर जर्नलिस्ट संजय पुगलिया ने एक बयान में कहा, यह अधिग्रहण मीडिया इंडस्ट्री में आगे बढऩे के लिए महत्वपूर्ण मील का पत्थर है। हम भारतीय नागरिक, उपभोक्ताओं या भारत में रुचि रखने वालों को सूचना और ज्ञान के साथ सशक्त बनाना चाहते हैं। एनडीटीवी हमारे दृष्टिकोण को पूरा करने के लिए सबसे उपयुक्त प्रसारण और डिजिटल प्लेटफॉर्म है।