December 5, 2022

ट्राई ने जारी किया सख्त आदेश, अब मोबाइल कंपनियों को देना होगा 30 दिन वाला प्लान

ग्लोबल मार्केट के रुख से शेयर बाजार में हाहाकार, सेंसेक्स 1,100 अंक टूटा- निफ्टी 18 हजार से नीचे
मुंबई ,14 सितंबर । भारतीय शेयर बाजार लगातार पांच सत्रों में बढ़त बनाने के बाद बुधवार सुबह बड़ी गिरावट पर खुला। अमेरिकी शेयर बाजार में आई गिरावट का असर घरेलू निवेशकों के सेंटिमेंट पर भी दिखा और सेंसेक्स 1,100 अंकों से ज्यादा की गिरावट के साथ 60 हजार से नीचे आ गया। भारतीय शेयर बाजार दोनों प्रमुख सूचकांक बुधवार सुबह लाल निशान के साथ खुले। कारोबारी सत्र की शुरुआत में 30 शेयर वाला सेंसेक्स 1153.96 अंक टूटकर 59,417.12 के स्तर पर खुला। वहीं, 50 शेयर वाले निफ्टी सूचकांक ने भी गिरावट के साथ कारोबार की शुरुआत की और यह 17,771.15 प्वाइंट पर खुला।
मार्केट ओपनिंग के दौरान दिखी गिरावट के कुछ ही देर बाद शेयर बाजार में रिकवरी का माहौल दिखाई दिया। सुबह करीब 9।20 बजे सेंसेक्स 738.3 अंक फिसलकर 59,832।78 अंक पर आ गया। वहीं, निफ्टी 208.35 अंक टूटकर 17,861.70 पर आ गया। इस दौरान सेंसेक्स के 30 में से 4 शेयर ही हरे निशान पर कारोबार करते देखे गए, बाकी सभी में गिरावट हावी रही। सबसे ज्यादा टूट टीसीएस के शेयर में 3.33 प्रतिशत की देखी गई।
मुद्रास्फीति के अनुमान से ज्यादा आने पर अब फेड रिजर्व की तरफ से ब्याज दर में इजाफा किया जा सकता है। फेडरल रिजर्व 20-21 सितंबर की बैठक में अपना फैसला सुनाएगा।
इससे पहले मंगलवार को घरेलू शेयर बाजार में तेजी का सिलसिला लगातार चौथे जारी रहा। कारोबारी सत्र के अंत में नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 133 अंक से अधिक चढक़र 4 अप्रैल के बाद पहली बार 18,000 अंक के पार बंद हुआ। लगातार चौथे कारोबारी सत्र में अपनी तेजी जारी रखते हुए बीएसई का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स 455.95 अंक यानी 0.76 प्रतिशत के उछाल के साथ 60,571.08 अंक पर बंद हुआ। पिछले तीन कारोबारी सत्रों के दौरान सेंसेक्स में 1,540 अंक से अधिक और निफ्टी में 445 अंक का उछाल आया है।
00)ट्राई ने जारी किया सख्त आदेश, अब मोबाइल कंपनियों को देना होगा 30 दिन वाला प्लान
नई दिल्ली ।  मोबाइल यूजर्स के लिए एक बड़ी अपडेट है। दरअसल बात ये है कि टेलीकॉम रेगुलेटर ट्राई ने एक नया आदेश जारी किया है। इस आदेश के तहत अब टेलीकॉम कंपनियों को हर हाल में 30 दिनों वाला कम से कम एक प्लान ऑफर करना ही होगा। मोबाइल कंज्यूमर्स द्वारा मिल रही लगातार शिकायतों के बाद ट्राई ने यह फैसला किया है।
ट्राई ने जारी किया निर्देश
मीडिया में चल रही खबरों की मानें तो ट्राई ने इस संबंध में टेलीकॉम कंपनियों को एक निर्देश भी जारी किया था। इस निर्देश के मुताबिक टेलीकॉम कंपनियों को प्लान वाउचर और रिन्यूअल कटेगरी में कम से कम एक ऐसा टैरिफ प्लान लाना होगा जिसकी वैलिडिटी 30 दिनों की हो। बता दें कि अगर महीने के हिसाब से देखें तो फिलहाल लगभग सभी कंपनियों द्वारा जो भी प्लान ग्राहकों के लिए हैं उनकी समय सीमा अधिकतम 28 दिनों की होती है।
हर हाल में जारी करना होगा 30 दिनों वाला प्लान
ग्राहकों की लगातार मिल रही शिकायत के बाद ट्राई ने सभी कंपनियों से बात की और उनसे सलाह मशविरे के बाद ट्राई द्वारा यह आदेश जारी किया गया है। जारी किए गए इस आदेश के मुताबिक टेलीकॉम सर्विस प्रोवाइडर को हर हाल में 30 दिन वैधता वाला रीचार्ज कूपन और स्पेशल वाउचर ऑफर करना होगा।
अलग अलग कंपनियों में ये है प्लान
अगर अलग अलग कंपनियों के प्लान की बात करें तो एयरटेल की 30 दिनों की वैलिडिटी वाला प्लान 128 रुपये का है, जबकि उसी तारीख को अगले महीने रिन्यूअल वाले प्लान का टैरिफ 131 रुपये का है। रिलायंस जियो की 30 दिनों की वैलिडिटी वाला प्लान 296 रुपये का है, जबकि अगले महीने उसी तारीख को रिन्यूअल वाले प्लान का टैरिफ 259 रुपये है। वोडाफोन आइडिया की 30 दिनों की वैलिडिटी वाला प्लान 137 रुपये का है, जबकि अगले महीने उसी तारीख को रिन्यू होने वाला प्लान 141 रुपये का है। बीएसएनएल का 30 दिनों का प्लान 199 रुपये का है, जबकि एक महीने की वैलिडिटी वाला प्लान 229 रुपये का है। एमटीएनएल का 30 दिनों वाला प्लान 151 रुपये का है, जबकि एक महीने यानी अगले महीने सेम डेट रिन्यूअल वाला प्लान 97 रुपये का है।