July 24, 2024

केदारनाथ धाम : बर्फबारी से टूटे दर्जनों टेंट, धाम में ढाई फीट तक बर्फ; डीजीपी ने केदार में संभाला मोर्चा


केदारनाथ । केदारनाथ में भारी बर्फबारी के कारण आज यात्रा बंद है। मौसम की भारी चेतावनी के बाद केदारनाथ धाम में कल रात से भारी बर्फबारी जारी है। बर्फबारी के कारण केदारनाथ धाम की यात्रा पूर्ण रूप से रोक दी गई है। यात्रियों को सोनप्रयाग से आगे नहीं जाने दिया जा रहा है। बर्फबारी इतनी ज्यादा है कि वहां दर्जनों टेंट टूट गए हैं। धाम में ढाई फीट तक बर्फ गिर चुकी है। कल केदारनाथ गये यात्रियों को आज सुरक्षित तरीके से दर्शन कराकर वापस लाया जा रहा है।
मौसम विभाग ने आज के लिए केदारनाथ धाम में भारी बर्फबारी की चेतावनी जारी की थी। मौसम विभाग की भविष्वाणी सच साबित हो रही है। धाम में बर्फबारी जारी है। बर्फबारी के कारण आज केदारनाथ की यात्रा पूर्ण रूप से रोकी गई है। आज एक भी यात्री को केदारनाथ नहीं भेजा गया है। यात्रियों को रुद्रप्रयाग, गौरीकुंड, सोनप्रयाग, सीतापुर, फाटा, गुप्तकाशी, अगस्त्यमुनि आदि स्थानों पर सुरक्षित रोका गया है। धाम में बर्फबारी के कारण अत्यधिक ठंड बढ़ गई है। पैदल मार्ग पर भी खतरा बढ़ गया है। जो यात्री कल केदारनाथ भेजे गये थे। उन्हें दर्शन करवाकर नीचे वापस लाया जा रहा है। यात्रियों की सुरक्षा के लिये पैदल मार्ग सहित धाम में सुरक्षा के लिए जवानों को तैनात किया गया है।
केदारनाथ धाम में हो रही बर्फबारी के कारण सबसे ज्यादा समस्या स्थानीय लोगों की ओर से लगाये गये टेंट स्वामियों को रही है। इसके साथ ही गढ़वाल मंडल विकास निगम की ओर से लगाये गये टेंट भी क्षतिग्रस्त हो गये हैं। केदारनाथ धाम में दो से ढाई फीट तक बर्फ गिर चुकी है। बर्फ हटाने के लिए स्थानीय लोगों के साथ ही मजदूर भी जुटे हुए हैं। केदारनाथ धाम में इन टेंटों में तीर्थयात्रियों को ठहराया जाता है। मगर दर्जनों टेंटों के क्षतिग्रस्त होने से रहने की ज्यादा समस्या खड़ी हो गयी है। धाम में लगातार हो रही बर्फबारी के कारण दिक्कतें बढ़ती जा रही हैं।
साथ ही केदारनाथ में बारिश और बर्फबारी ने श्रद्धालुओं की दुश्वारियां बढ़ा दी हैं। धाम में पड़ी बर्फ को जेसीबी की मदद से हटाया जा रहा है। वहीं मौसम साफ होने के बाद ही यात्रियों को केदारनाथ धाम भेजा जाएगा। वहीं पुलिस महानिदेशक अशोक कुमार भी केदारनाथ धाम में डटे हुए हैं और यात्रियों से संवाद कर उन्हें सुरक्षित यात्रा करवा रहे हैं। केदारनाथ धाम में हेलीपैड में भी बर्फ जमी है, जिसे जेसीबी मशीन से हटाने का काम किया जा रहा है।
पुलिस महानिदेशक अशोक कुमार एवं एसपी रुद्रप्रयाग डॉ. विशाखा अशोक भदाणे ने केदारनाथ धाम में सुरक्षा व्यवस्थाओं का जायजा लिया। इस दौरान मंदिर प्रांगण में उपस्थित श्रद्धालुओं से संवाद स्थापित किया गया। मंदिर समिति पदाधिकारियों से वार्ता की। पुलिस महानिदेशक ने बताया कि केदारनाथ धाम में भारी बर्फबारी हो रही है। आज यात्रा को ऋषिकेश, श्रीनगर, रुद्रप्रयाग, फाटा, गौरीकुंड से पूरी तरह से रोक दिया गया है। यहां पर मौसम प्रतिकूल है। कल के आये यात्रियों को दर्शन कराने के बाद वापस भेजा जा रहा है।
डीजीपी ने देशवासियों से अपील की है कि 4 मई की यात्रा के ²ष्टिगत मौसम के अनुसार आज शाम को निर्णय लिया जायेगा। इस संबंध में एडवाइजरी का इंतजार करें।