June 15, 2024

चाय से जुड़े इन भ्रमों में नहीं हैं कोई सच, जानिए क्या है हकीकत


चाय एक लोकप्रिय पेय है और इसका सेवन शरीर को ऊर्जा देने के साथ ही मन को सुकून देने में मदद करता है। हालांकि, बाजार में चाय की वैरायटी के बढऩे के साथ ही लोगों के मन में इससे जुड़े कई भ्रम घर करते जा रहे हैं, जबकि इनकी सच्चाई कुछ अलग ही है। चलिए आज हम आपको चाय से जुड़े कुछ ऐसे ही भ्रमों और उनकी सच्चाई के बारे में बताते हैं।
भ्रम- चायपत्ती की शेल्फ लाइफ नहीं होती है
यह सिर्फ एक भ्रम है कि चायपत्ती की शेल्फ लाइफ नहीं होती है। सच तो यह है कि हर निर्मित उत्पाद की एक्पायरी डेट होती है। आमतौर पर चायपत्ती की शेल्फ लाइफ 6 से 8 महीने होती है। एक अध्ययन के अनुसार, चायपत्ती के एक्सपायर होने के बाद इसके कैटेचिन का स्तर 32 प्रतिशत कम हो गया, जिससे यह कम खाने योग्य और स्वास्थ्य के लिए असुरक्षित हो गई।
भ्रम- ग्रीन टी पीने से वजन कम होता है
बहुत से लोगों का ऐसा मानना है कि ग्रीन टी पीने से वजन कम होता है, लेकिन यह सिर्फ एक भ्रम से ज्यादा और कुछ नहीं है। भले ही ग्रीन टी में मौजूद पोषक तत्व मेटाबॉलिज्म को बढ़ाने और फैट बर्न करने में मदद करते हैं, लेकिन इसका मतलब यह बिल्कुल नहीं है कि सिर्फ ग्रीन टी पीन से ही वजन कम होने लगता है। इसके साथ आपको अपनी डाइट और एक्सरसाइज पर भी पूरा ध्यान देना होगा।
भ्रम- टी बैग खुली चायपत्ती जितने ही अच्छे होते हैं
शायद यह सबसे आम भ्रम है कि टी बैग खुली चायपत्ती जितने ही अच्छे होते हैं, लेकिन ऐसा नहीं है। टी बैग्स उतने स्वास्थ्यवर्धक नहीं होते हैं, खासकर जब आप उनकी तुलना सामान्य ढीली चायपत्ती से करते हैं। दरअसल, टी बैग्स में आवश्यक पोषक तत्व और सुगंध की कमी होती है। यहां तक कि बैग भी सिल्क या कॉर्न प्लास्टिक के बने होते हैं, जो स्वास्थ्य के लिए सही नहीं है।
भ्रम- चाय में दूध मिलाने से इसके फायदे बेअसर हो सकते हैं
इस सूची में एक और लोकप्रिय गलत धारणा यह है कि दूध चाय के स्वास्थ्य लाभों को खराब कर सकता है, जबकि ऐसा कुछ नहीं है। दूध कैल्शियम, पोटैशियम और विटामिन- बी 2 और बी 12 से भरपूर होता है, जो चाय के पोषक तत्वों को हटाने के बजाय इसके मूल लाभों में और इजाफा करता है। जर्नल ऑफ एग्रीकल्चर एंड फूड केमिस्ट्री के मुताबिक, चायपत्ती की कैटेचिन मात्रा दूध के साथ या दूध के बिना समान रहती है।
भ्रम- गर्मी के दिनों में चाय पीना हानिकारक होता है
जिन लोगों को यह मानना है कि गर्मी के दिनों में चाय पीना हानिकारक होता है तो आपको बता दें कि ऐसा नहीं है। गर्मी और मानसून से लेकर पतझड़, सर्दी और वसंत तक चाय का सेवन हर मौसम के दौरान किया जा सकता है। गर्मियों के दौरान एक गरम कप चाय का सेवन करने से पसीना ज्यादा आता है, जिससे शरीर को तेजी से ठंडा होने