February 29, 2024

किसानों का सरकार के खिलाफ प्रदर्शन


विकासनगर ।  भारतीय किसान संघ की बैठक सोमवार को रुद्रपुर चौक स्थित जय श्री किसान स्वायत्त सहकारिता भवन में संपन्न हुई। बैठक में किसानों की समस्याओं पर चर्चा करने के साथ ही छोटे और मझौले किसानों के प्रति ढुलमुल रवैया अख्तियार करने का आरोप लगाते हुए सरकार के प्रति नाराजगी जाहिर करते हुए प्रदर्शन किया। किसानों को शांत करने के बाद कृषि विज्ञान केंद्र के वैज्ञानिक ने फसलों में लगने वाले रोग और उनसे बचाव की जानकारी दी। बैठक की अध्यक्षता कर रहे जगदीश्वर चौहान ने कहा कि छोट और मझौले किसानों की समस्याओं के प्रति सरकार का रवैया ढुलमुल है। अधिकांश योजनाएं बड़े किसानों के लिए ही तैयार की गई हैं। पर्वतीय क्षेत्रों के छोटे किसान, बागवान सरकार की लाभकारी योजनाओं से वंचित रह जाते हैं। इसके साथ ही ग्रामीण क्षेत्रों में किसानों को समय पर बीज, खाद उपलब्ध नहीं होता है। छोटे जोत होने के कारण किसान परंपरागत तरीकों से ही खेती करते हैं, लेकिन इन परंपरागत तरीकों में बदलाव लाने के लिए सरकार की ओर से कोई कोशिश नहीं की जा रही, जिससे मानव श्रम कम हो सके। बैठक में ग्राम समितियों और ब्लॉक स्तरीय समिति के जल्द गठन का निर्णय लिया गया। कृषि विज्ञान केंद्र ढकरानी के वैज्ञानिक डॉ. संजय राठी ने परंपरागत फसलों में लगने वाले रोग और उनके उपचार की जानकारी दी। इसके साथ ही उन्होंने किसानों को सिंचाई, खाद, रसायन की सही मात्रा का प्रयोग करने की सलाह दी। इस दौरान भारतीय किसान संघ के प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य नरेश चंद्र नौटियाल, राजेंद्र धीमान, शेर सिंह, आनंद सिंह तोमर, ज्ञान सिंह पंवार, नरेश राठौर, उदय सिंह, राजेंद्र सिंह, रघुवीर तोमर आदि मौजूद रहे।