April 21, 2024

खनन वाहनों की निकासी को फायरिंग, 3 घायल


काशीपुर ।खनन वाहनों की निकासी को लेकर गांव पिपलिया में जमकर पथराव और मारपीट हो गई। आरोप है कि माईनिंग चेकपोस्ट पर मौजूद दबंगों ने 8 से 10 राउंड फायरिंग की, जिससे अफरा-तफरी मच गई। सूचना पर पहुंची पुलिस ने मौके से एक पिस्टल और एक कारतूस बरामद किया है। पुलिस ने दोनों पक्षों के 8 लोगों के खिलाफ संगीन धाराओं में मुकद्मा दर्ज करते हुए जांच शुरू कर दी है। खनन वाहनों की रॉयल्टी चेक करने के लिए कैलाश रिवर बैड मिनरल को सरकार की ओर से स्वीकृति मिली है। आरोप है कि रॉयल्टी चेक करने की आढ़ में ये लोग अवैध वसूली कर रहे हैं तथा चालकों से मारपीट कर रहे हैं। आरोप ये भी है कि इनकी चेकपोस्ट छोई मोढ़ पर है, लेकिन ये लोग रविवार की रात करीब 12.30 बजे पिपलिया मोढ़ पर नियमों को ताक पर रखकर चेकिंग कर रहे थे। तभी सामने से पट्टी निवासी माजिद का खाली डंपर डीजल डलवाकर आ रहा था, जिसको इन्होंने रोका और उससे अवैध वसूली करनी चाही। इसपर वहां विवाद हो गया। इसके बाद डंपर स्वामी माजिद अपने दोस्त मोहित के साथ मौके पर पहुंचा था। आरोप है कि इसी बीच चेक पोस्ट कर्मियों ने पथराव कर दिया। इसमें मोहित और फरमान घायल हो गए। इस घटना से नाराज लोग बड़ी संख्या में एकजुट हो गए और दोनों ओर से गाली गलौच होने लगा। आरोप है कि चेक पोस्ट कर्मी घर का चैनल गेट बंद कर छत पर चढ़ गए और वहां से 8 से 10 राउंड फायर कर दिए। इससे अफरा-तफरी मच गई। मारपीट फायरिंग की सूचना के बाद सीओ अन्न राम आर्य, कोतवाल मनोज रतूढ़ी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे। जहां उन्होंने नाराज लोगों को शांत करते हुए चेक पोस्ट कर्मियों के पास से एक लाईसेंसी पिस्टल तथा एक जिंदा कारतूस भी बरामद किया। वहीं पुलिस ने कंपनी के कर्मी विनय कुमार अहलूवालिया की तहरीर पर 6 अज्ञात और अन्य लोगों पर मुकद्मा दर्ज कर लिया। वहीं दूसरे पक्ष के माजिद हुसैन की ओर से दी गई तहरीर के आधार पर दो अज्ञात लोगों के खिलाफ विभिन्न धाराओं में केस दर्ज कर लिया है।
गांव पिपलिया में मारपीट और फायरिंग की सूचना मिली थी, जिसके बाद पुलिस तत्काल मौके पर पहुंची। पुलिस ने दोनों पक्षों के लोगों पर मुकद्मा दर्ज करते हुए जांच शुरू कर दी है। कानून का उल्लंघन करने वालों को बख्शा नहीं जाएगा।     -अभय सिंह, एएसपी काशीपुर।

कैलाश रिवर बैड मिनरल को चयनित चेकपोस्ट पर ही रॉयल्टी चेक करने का अधिकार मिला है। इनपर आरोप लगा है कि कर्मियों ने छोई मोड़ के स्थान पर गांव पिपलिया में बैरिकेड लगाकर वाहनों की चेकिंग की है जो कि नियमविरूद्ध है। इसी को लेकर वहां मारपीट और फायरिंग की घटना सामने आई है, जिसपर पुलिस जांच कर रही है। वहीं कंपनी से पूछा जाएगा कि इन्होंने चेकपोस्ट के स्थान पर दूसरी जगह चेकिंग किस अधिकार से की है।    -राकेश तिवारी, एसडीएम बाजपुर।