May 23, 2024

दिग्गज खिलाड़ी सुरेश रैना ने क्रिकेट के सभी प्रारूपों से लिया संन्यास


नयी दिल्ली, । पूर्व भारतीय बल्लेबाज सुरेश रैना ने मंगलवार को क्रिकेट के सभी प्रारूपों से संन्यास लेने की घोषणा की जिससे वह विदेशों में होने वाली टी20 लीग में खेलने के लिए योग्य हो गए हैं। इस 35 वर्षीय खिलाड़ी ने 15 अगस्त, 2020 को महेंद्र सिंह धोनी के संन्यास लेने की घोषणा करने के बाद अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कह दिया था। रैना ने इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में 2021 में खेलना जारी रखा था लेकिन 2022 के सत्र से पहले चेन्नई सुपर किंग्स ने उन्हें अपनी टीम में नहीं रखा था। रैना ने भारतीय क्रिकेट बोर्ड, उत्तर प्रदेश क्रिकेट संघ और चेन्नई सुपर किंग्स का आभार व्यक्त करते हुए ट्वीट किया,अपने देश और राज्य उत्तर प्रदेश का प्रतिनिधित्व करना मेरे लिए सम्मान की बात है। मैं क्रिकेट के सभी प्रारूपों से संन्यास लेने की घोषणा करता हूं। भारत या घरेलू स्तर पर सक्रिय खिलाड़ी विदेशी लीग में भाग नहीं ले सकते हैं और ऐसे में रैना के लिए विश्वभर की टी20 लीग में खेलने के लिए संन्यास लेना जरूरी था। उन्हें अगले साल दक्षिण अफ्रीका की नई टी20 लीग में खेलते हुए देखा जा सकता है। इस लीग की सभी छह टीमों का स्वामित्व आईपीएल के मालिकों के पास है। रैना ने अपना आखिरी प्रतिस्पर्धी मैच अक्तूबर 2021 में चेन्नई की तरफ से राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ अबू धाबी में खेला था। भारत की तरफ से रैना ने 18 टेस्ट, 226 एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय और 78 टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेले थे। वह 2011 में विश्व कप जीतने वाली टीम के सदस्य थे।
००

)हार्दिक पांड्या, जसप्रीत बुमराह रिकी पोंटिंग के शीर्ष पांच विश्व टी20 खिलाडिय़ों में शामिल
दुबई, । ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान रिकी पोंटिंग ने सोमवार को भारत के हार्दिक पांड्या और जसप्रीत बुमराह को अपने शीर्ष पांच विश्व टी20 खिलाडिय़ों के रूप में चुना। पोंटिंग ऑस्ट्रेलिया के कप्तान थे, जब उन्होंने अपना पहला टी20 मैच खेला, जिसमें न्यूजीलैंड के खिलाफ मैच जीतने वाले प्रदर्शन में 55 गेंदों में नाबाद 98 रन बनाए।
जून में अपनी अंतरराष्ट्रीय वापसी के बाद से, एक ऑलराउंडर के रूप में पांड्या ने शानदार प्रदर्शन किया है, जिससे भारत जीत की ओर अग्रसर है, जिसका एक उदाहरण एशिया कप 2022 में पाकिस्तान के खिलाफ ग्रुप ए मैच था।
पोंटिंग ने आईसीसी रिव्यू शो में पांड्या को चुनने के बारे में बताया, मौजूदा फॉर्म में चल रहे तीसरे नंबर पर हार्दिक पांड्या को पीछे छोडऩा काफी कठिन है। उनका आईपीएल शानदार था। उन्हें गेंदबाजी करते देखना अच्छा था, जिसने स्पष्ट रूप से प्रभावित किया है कि वह भारत के लिए कितना खेलने में सक्षम है।
चोट के कारण एशिया कप में शामिल नहीं होने के बावजूद, बुमराह गेंद के साथ भारत के तुरुप का इक्का है, जो अपनी धीमी गेंदों, बाउंसर और यॉर्कर की विविधता के साथ मैच के किसी भी चरण में अपनी टीम के लिए योगदान देने में सक्षम हैं।
उन्होंने कहा, जसप्रीत बुमराह मेरी टीम में पांचवें नंबर पर हैं। वह शायद दुनिया में टेस्ट, वनडे और टी20 क्रिकेट में सबसे बेहतर गेंदबाज हैं। नई गेंद के साथ वह बहुत खतरनाक साबित होते हैं।
पोंटिंग द्वारा चुने गए अन्य खिलाडिय़ों में पाकिस्तान के कप्तान बाबर आजम, इंग्लैंड के सफेद गेंद के कप्तान जोस बटलर और अफगानिस्तान के लेग स्पिनर राशिद खान शामिल हैं। आजम सफेद गेंद वाले क्रिकेट में पाकिस्तान के लिए एक शानदार रन-स्कोरर रहे हैं। बावजूद इसके कि उन्होंने अभी तक एशिया कप में एक बड़ी पारी नहीं खेली है।
पोंटिंग ने कहा, बाबर आजम को नंबर दो पर रखना चाहूंगा, सिर्फ इसलिए कि वह काफी समय से टी20 मैच में नंबर एक रैंकिंग बल्लेबाज है और इसके लायक है। उनका रिकॉर्ड इस बात की गवाई देता है। उन्होंने पाकिस्तान के लिए काफी हद तक नेतृत्व किया है, जिसने पिछले कुछ वर्षों से अच्छी क्रिकेट खेली है।
राशिद पोंटिंग के लिए नंबर एक खिलाड़ी हैं, जिन्होंने स्वीकार किया कि एक से पांच के क्रम में खिलाडिय़ों को चुनना एक मुश्किल काम है।
उन्होंने कहा, मैं वास्तव में राशिद खान को नंबर एक पर रखना चाहूंगा और इसका कारण मैंने सोचा था कि अगर हमारे पास वास्तव में आईपीएल नीलामी में एक खिलाड़ी की जगह थी और कोई वेतन सीमा नहीं थी, तो शायद वह राशिद खान ही थे, जिसे मैं अपने पास रखना चाहता था।
पोंटिंग ने खुलासा किया कि बटलर उनकी शीर्ष पांच चुनौतियों में क्यों हैं। उन्होंने कहा कि जब आप उसके खिलाफ कोचिंग कर रहे होते हैं, तो आप बस इतना जानते हैं कि उनके पास कुछ ऐसा है जो बहुत से अन्य खिलाडिय़ों के पास नहीं है। उनके पास बल्लेबाजी से मैच को पलटने की क्षमता है।