July 24, 2024

गौरीकुंड में सप्ताह भर में दूसरी घटना ने सभी को झकझोरा


रुद्रप्रयाग। गौरीकुंड में एक सप्ताह के भीतर हुई दूसरी घटना ने सबको झकझोर दिया है। बीते 3 अगस्त की रात्रि गौरीकुंड में भूस्खलन से तीन दुकानें ध्वस्त हो गई थी जिनमें 3 लोगों की मौत हो गई थी जबकि 20 लोग अब भी लापता है। वहीं मंगलवार रात्रि गौरी गांव के नीचे हुई घटना में दो बच्चों की दर्दनाक मौत हुई है।
केदारघाटी में कई दिनों से मूसलाधार बारिश हो रही है। ऐसे में जहां भूस्खलन की घटनाएं बढ़ रही है वहीं नदी और नाले भी उफान पर हैं। मंदाकिनी नदी के उफान पर होने से कई बार रेस्क्यू में जवानों को मुश्किलें हो रही है। वहीं गदेरे और नाले भी उफान पर हैं। बीती रात गौरी गांव में जोरदार बारिश हुई जिससे गांव के नीचे खेतों में झोपड़ी में रह रहे नेपाली परिवार पर दुखों का पहाड़ टूट गया। खेत की दीवार का पुश्ता टूटा और मलबे पत्थर झोपड़ी की ओर गिरे जिससे झोपड़ी में सो रहे दो बच्चों की दर्दनाक मौके पर ही मौत हो गई। वहीं घटना से क्षेत्र में शोक की लहर है। सप्ताह भर के भीतर गौरीकुंड में यह दूसरी घटना है जिसमें जन हानि हुई है। स्थानीय लोगों ने घटना पर गहरा दुख व्यक्त किया है। कहा कि जनहानि होना काफी दुखद है।