February 29, 2024

26 शव बरामद, गार्ड ऑफ ऑनर के साथ शव परिजनों को सौंपे


उत्तरकाशी। उत्तरकाशी जिले के द्रौपदी डांडा टू में एवलांच हादसे में रेस्क्यू टीम द्वारा अब तक 26 शव बरामद कर लिए गए हैं। जिसमें से 4 शव शुक्रवार को डोकरानी बामक एडवांस बेस कैंप से उत्तरकाशी जिला अस्पताल लाए गए। जिला अस्पताल में चारों शव के पोस्टमार्टम की कार्रवाई के बाद गार्ड ऑफ ऑनर देकर शव परिजनों के सुपुर्द किए गए हैं। अपनों की डेड बॉडी देखकर परिजनों में चीख पुकार मच गई। अस्पताल में लाए गए चारों शव की शिनाख्त हो गई है। इनमें प्रशिक्षक सविता कंसवाल, नवमी रावत, कुमाऊं के निवासी अजय बिष्ट और हिमाचल शिमला निवासी शिवम कैंथोला के शव शामिल हैं। अस्पताल में पर्वतारोही सविता कंसवाल के परिजन भी मौजूद थे। अस्पताल में सविता के शव को देखते ही लोंथरू गांव के लोग रोने लगे। एवलांच में फंसे लोगों के लिए रेस्क्यू ऑपरेशन लगातार जारी है। इनमें दो प्रशिक्षक व 24 ट्रेनीज के शव बरामद हुए हैं। 3 लोग अभी भी लापता हैं। शुक्रवार बरामद हुए सभी शवों को रेस्क्यू टीम मातली हेलीपैड से उत्तरकाशी जिला अस्पताल में पोस्टमार्टम के लिए लाने में जुटी है। 42 सदस्यीय एडवांस दल में से एवलांच में कुल 29 लोग फंसे थे। बीती देर रात रेस्क्यू टीम ने तीन और शव निकाले। वायुसेना, एसडीआरएफ, एनडीआरएफ के अलावा जम्मू कश्मीर के गुलमर्ग से माउंटेनियर्स की टीम भी रेस्क्यू कार्य में जुटी है।