July 24, 2024

सीएम धामी ने किया छात्र-छात्राओं के साथ क्यों होता है गांव से पलायन विषय पर संवाद


पौड़ी। सीएम पुष्कर सिंह धामी ने सोमवार को एनसीसी कैडेट्स और मेधावी छात्र-छात्राओं के साथ क्यों होता है गांव से पलायन विषय पर संवाद किया। सीएम ने इस दौरान छात्र-छात्राओं को बताया कि किन-किन योजनाओं से सरकार पलायन को रोकने का काम कर रही है। कहा कि योजनाओं की जानकारी होनी चाहिए ताकि इनसे लाभ उठाया जा सके। सीएम ने मेधावी छात्र-छात्राओं को सम्मानित भी किया।
पौड़ी विकास भवन में सोमवार को आयोजित संवाद में सीएम पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि पलायन एक चिंता का विषय है। गांवों का खाली होना प्रदेश के साथ ही देश की सुरक्षा के लिए खतरा है। कहा कि सरकार बड़े स्तर पर रिवर्स माइग्रेशन पर काम कर रही है। केंद्र व राज्य सरकार की विभिन्न योजनाओं से लोगों को जोड़ते हुए रोजगार व स्वरोजगार के अवसर मुहैया करा रही है, ताकि गांवों में लोग रह सके। बताया कोरोना काल में लाखों प्रवासी अपने गांव आए और सरकार की योजनाओं से जुडकर, कई युवाओं ने स्वरोजगार को अपनाया है। आज यही युवा, अन्य लोगों को भी रोजगार देने का काम कर रहे हैं।
धामी ने कहा कि आपसी समन्वय एवं सहभागिता से ही पलायन रुकेगा। कहा कि लोगों का रुझान होम स्टे की ओर बढ़ रहा है, इसलिए सरकार इसे बढ़ावा दे रही है। स्वयं सहायता समूह को ऋण वितरित किया जा रहा है। महिलाएं आत्मनिर्भर बन गांव से पलायन रोकने में अपनी अहम भूमिका निभा रही है। कहा कि स्वरोजगार बढ़ेगा तो पलायन रुकेगा और लोगों को आर्थिक फायदा भी होगा। सीएम ने कहा युवा वर्ग को सरकार की विभिन्न जन कल्याणकारी योजनाओं से अवगत होना चाहिए। डीएम को निर्देश देते हुए कहा कि जिले में युवाओं को सरकारी योजनाओं के प्रति जागरूक करने के लिए विशेष कैंपों का आयोजन किया जाए।
सीएम ने कहा कि एनसीसी से हमें सेना के जैसा अनुशासन व साहस सीखने को मिलता है। एनसीसी हर मोर्चे पर तन- मन से खड़ी रहती है। जीवन में शिक्षा प्राप्त करने का समय अमूल्य होता है। हमें अपने विद्यार्थी काल में पूरे मनोयोग से कार्य करना चाहिए। सीएम ने छात्रों से कहा कि संकल्प लेकर आगे बढ़ा जाए तो सपने जरूर साकार होते हैं। कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में देश निरंतर आगे बढ़ रहा है। आज देश का मान सम्मान स्वाभिमान पूरे विश्व में बड़ा है। पीएम के नेतृत्व में हमें जी-20 की अध्यक्षता करने का मौका मिला है। जी-20 देशों के साथ अन्य देश एवं अंतरराष्ट्रीय संगठन भी भारत आ रहे हैं। संवाद में प्रमोद सिंह, नैना कठैत व प्रियांशु ने पलायन को लेकर चर्चा की। इस मौके पर सीएम ने प्रमोद, प्रियांशु, विवेक को सम्मानित भी किया।