February 29, 2024

गरुड़ घाटी में जबरदस्त ओलावृष्टि से किसानों के चेहरे मायूस

बागेश्वर गरुड़ । बेमौसम ओलावृष्टि ने गरुड़ घाटी के किसानों के चेहरों को आज मायूसी में बदल दिया ।

आज सायं करीब 3 बजे लगभग पूरी गरुड़ घाटी भयंकर ओलावृष्टि की चपेट में आ गई । जब अचानक दर्जनों गाँव सफेद चादर से ढके नजर आने लगे। इस दृश्य को देखकर ऐसा लगने लगा कि जैसे अभी 2 हिमपात हो रहा हो ।

यहाँ आपको बता दे कि गरुड़ घाटी अपनी फसलों की उत्कृष्ट उत्पादकता के बारे में प्रदेश में जानी जाती हैं। जिसमे रवि हो या खरीफ की फसलें ,यहाँ के किसानों का ये एकमात्र भरणपोषण का जरिया होता हैं।

लेकिन अफ़सोस इसबार यहाँ के किसान अपनी रवि फसलों विशेष कर तैयार गेहूँ की कटाई का श्री गणेश भी नही कर पाए थे कि आज की आकस्मिक ओलावृष्टि ने सब कुछ पकी पकाई फसल को तबाह कर दिया।

इस भयंकर ओलावृष्टि ने न केवल गेंहू बल्कि नकदी फसल सब्जियों व फलों को भी भारी नुकसान पहुचाया हैं। यह ओलावृष्टि लगभग 1 घण्टे तक बदस्तूर जारी रही । और इसके बन्द होते ही सोसल मीडिया में इस तबाही की बाढ़ सी आ गई।

जैसे सब एकसाथ सरकार से कहना चाहते हो कि हुजरे आलम किसी एकपर तो आपकी नजर पड़ेगी ।

क्षेत्र के जनप्रतिनिधियों ने इस तबाही की भरपाई हेतू प्रदेश सरकार से मांग की हैं कि इस नुकसान का तत्काल सर्वे कराकर समस्त प्रभावित किसानों को राहत राशि जारी की जाए।