May 23, 2024

दाऊद इब्राहिम हर महीने भाई-बहनों को भेजता है 10 लाख रुपये, ईडी के सामने हुई गवाही


मुंबई । राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता नवाब मलिक मनी लॉन्ड्रिंग मामले में जांच की आंच का सामना कर रहे हैं। इसी मामले में जांच के दौरान अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम को लेकर भी कई खुलासे हुए हैं। प्रवर्तन निदेशालय से पूछताछ के दौरान एक गवाह ने खुलासा किया है कि दाऊद हर महीने अपने भाई-बहनों को 10 लाख रुपये भेजता है।
खालिद उस्मान शेख ने ईडी को बताया, इकबाल कासकर ने मुझे बताया था कि दाऊद अपने आदमियों के जरिए मुझे पैसा भेज रहा है। उसने यह भी कहा था कि उसे भी हर महीने 10 लाख रुपये मिलेंगे। कुछ मौकों पर उसने मुझे भारी नकदी दिखाई और कहा कि उसे दाऊद भाई से पैसे मिले हैं। खालिद का भाई कासकर का बचपन का दोस्त था और वह दाऊद की बहन हसीना पारकर के ड्राइवर या बॉडीगार्ड सलीम पटेल को जानता था। खालिद के भाई की गैंगवॉर के दौरान मौत हो गई थी। खालिद ने ईडी को बताया कि पटेल ने एक बार उसे बताया था कि वह हसीना के साथ मिलकर दाऊद के नाम पर जबरन वसूली कर रहे हैं। ईडी ने आरोप लगाए थे कि पटेल ने हसीना के साथ मिलकर गैर-कानूनी तरीके से मुंबई के कुर्ला स्थित गोवावाला परिसर को भी हड़प लिया था, जिसे बाद में उन्होंने मलिक परिवार को बेच दिया था।
रिपोर्ट के मुताबिक, कासकर और हसीना के बेटे अलीशाह समेत कई गवाह दाऊद के पाकिस्तान में होने की बात कह चुके हैं। कासकर ने कहा था, उसकी पत्नी का नाम मेहजबीन है। उसके पांच बच्चे हैं। एक बेटे का नाम मोइन है। उसकी सभी बेटियों के शादी हो चुकी है। उसका बेटा भी शादीशुदा है। कासकर ने यह भी बताया था कि 1993 बॉम्बे ब्लास्ट का एक आरोपी अनीस भी पाकिस्तान में रह रहा है।
अलीशाह ने ईडी को बताया था, मैंने सूत्रों और परिवार के सदस्यों से सुना है कि दाऊद कराची में है… ईद, दिवाली और त्यौहार के अन्य मौकों पर मेहजबीन… मेरी पत्नी और मेरी बहनों से संपर्क करती थी।