July 13, 2024

पेड़ गिरने से वाहन क्षतिग्रस्त, कोई जनहानि नहीं


अल्मोड़ा। लगातार हो रही बारिश से जनपद में जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया है। बारिश से जिले की पांच ग्रामीण सड़कें बाधित चल रही हैं तो वहीं रानीखेत में पेड़ गिरने से वाहन क्षतिग्रस्त हो गए। गनीमत रही कि जिस वक्त पेड़ गिरा, उस वक्त वाहनों में कोई मौजूद नहीं था। अल्मोड़ा में लगातार हो रही बारिश लोगों की परेशानी का सबब बन गई है। बारिश के चलते रानीखेत तहसील के खनियां गांव के पास एरोड मोटर मार्ग पर एक भारी भरकम विशालकाय चीड़ का पेड़ सीधे वाहनों को ऊपर आ गिरा। प्राप्त जानकारी के अनुसार वहाँ पर खड़ी राजन व ललित की ऑल्टो कार, सुरेन्द्र सिंह की स्कूटी सहित अन्य वाहनों को काफी नुकसान पहुंचा है। इसके अलावा पेड़ गिरने से मार्ग भी बाधित हो गया। वहीं, पेड़ गिरने की सूचना ग्रामीणों ने प्रशासन को दी। जिसके बाद आपदा की टीम मौके पर पहुंची और पेड़ को हटाकर यातायात सुचारू करवाया। इसके अलावा मलबा आने से एक स्टेट हाइवे भनोली सीमलखेत समेत पांच ग्रामीण सड़कें बंद हो गई हैं जिनमें अल्मोड़ा ब्लॉक की पातलीबगड़ बड़सीमी मोटर मार्ग, चौलछीना चुपड़ा मोटर मार्ग, सल्ट ब्लॉक की पीपना मनहेत डंगूला मोटर मार्ग, जेपी पीपल मोटर मार्ग शामिल हैं।  अल्मोड़ा आपदा प्रबंधन अधिकारी विनीत पाल ने बताया कि सभी मार्गों को खोलने के लिए जेसीबी मशीन लगाई गई है। जबकि, खनियां के पास वाहनों के ऊपर गिरे पेड़ को हटा दिया गया है। इसमें कोई जनहानि नहीं हुई है। बंद सड़कों को भी जल्द खोलने के लिए प्रयास जारी है।